Published On: Tue, Jan 9th, 2018

अप्रैल से बदल जाएगी राज्यसभा की तस्वीर

राज्यसभा में 27 जनवरी को कांग्रेस के 3 सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने के बाद भले ही भाजपा सबसे बड़ा दल बन जाए, किन्तु यहां की वास्तविक तस्वीर अप्रैल में बदलेगी, जब कुल 55 सदस्यों का कार्यकाल पूरा होगा। अप्रैल में जिनका कार्यकाल पूरा होगा उनमें केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, जेपी नड्डा, रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी, राजीव शुक्ला, रेणुका चौधरी तथा मनोनीत सदस्य रेखा एवं सचिन तेंदुलकर शामिल हैं।
अप्रैल में भाजपा के 17, कांग्रेस के 12, सपा के 6, बसपा, शिवसेना, माकपा के एक-एक, जदयू, तृणमूल कांग्रेस के 3-3, तेदेपा, राकांपा, बीजद के 2-2 निर्दलीय तथा मनोनीत 3 सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने जा रहा हैं। भाजपा इस बार उत्तर प्रदेश से अपनी सीटों की संख्या में बढ़ोतरी करेगी, जबकि कांग्रेस को गुजरात और महाराष्ट्र से ही सीट मिलेगी। गुजरात से रिटायर को रहे 4 में से 2 कांग्रेस को मिलने की उम्मीद है, जबकि महाराष्ट से 2 सदस्यों में से एक को वह वापस ला पाएगी। इस माह 27 जनवरी को उच्च सदन से कांग्रेस के जनार्दन द्विवेदी, परवेज हाशमी और डॉ. कर्ण सिंह सेवानिवृत्त हो रहे हैं। तीनों राज्यसभा में दिल्ली का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। इनके स्थान पर अब आप के 3 सदस्यों को आना है। इसके बाद कांग्रेस के सदस्यों की संख्या घटकर 54 रह जाएगी। फरवरी माह में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के हिशे लाचुंगपा 23 तारीख को सेवानिवृत्त होंगे।

ये हैं पारी समाप्त करने वाले प्रमुख सांसद
अप्रैल माह में उच्च सदन में 55 सदस्यों का कार्यकाल पूरा होगा। जिनका कार्यकाल पूरा हो रहा है उनमें सपा के नरेश अग्रवाल, जया बच्चन, किरणमय नंदा, बसपा के मुनकाद अली, कांग्रेस के शादीलाल बत्रा, सत्यव्रत चतुर्वेदी, डॉ. के चिरंजीवी, रेणुका चौधरी, रहमान खान, रजनी पाटिल, राजीव शुक्ला, प्रमोद तिवारी,  नरेन्द्र बुढानिया व अभिषेक मनु सिंघवी जैसे प्रमुख नाम शामिल हैं।

fdfd