Published On: Thu, Jan 11th, 2018

वृद्ध दंपति का राष्ट्रपति से अनुरोध-हम देश पर बोझ, हमें मौत दे दीजिये

मुंबई। यहां के एक वयोवृद्ध दंपति ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से अनुरोध कर  ‘एक्टिव यूथेन्सिया’ की इजाजत मांगी है। नारायण लावते (88) और उनकी पत्नी इरावती (78) बेऔलाद हैं। उनके सगे भाई बहन भी अब नहीं रहे। उनका मानना है कि उनकी इच्छा के खिलाफ उन्हें जीवित रखना देश के और उनके संसाधनों की बर्बादी है। इन लोगों ने अपना बचा-खुचा धन राज्य के कोषागार में दान करने का भी वादा किया है। गौरतलब है कि ‘एक्टिव यूथेन्सिया’ में मेडिकल विशेषज्ञ या अन्य व्यक्ति जानबूझ कर कुछ ऐसी दवा देते हैं, जिससे कि व्यक्ति की मौत हो जाए। दक्षिण मुंबई के इस दंपति ने राष्ट्रपति ने कहा, ‘मौत की सजा का सामना कर रहे लोगों के प्रति दया दिखाने की राष्ट्रपति के पास शक्तियां हैं। हम उम्र कैद काट रहे हैं। राष्ट्रपति हमें अपना जीवन समाप्त करने की इजाजत दे कर हम पर दया कर सकते हैं।’ लावते ने कहा कि स्विटजरलैंड में  डिग्नीटाज  नाम का संगठन मौत चाहने वालों की मदद करता है। हम उसके सदस्य भी हैं, लेकिन वहां जा नहीं सकते। क्योंकि हमारे पास पासपोर्ट नहीं है। अपनी याचिका में लावते ने कहा है उनका और उनकी पत्नी का अपेक्षाकृत अच्छा स्वास्थ्य है। ऐसे में गंभीर रोगी होने का इंतजार क्यों किया जाये।

fdfd