Published On: Tue, Aug 29th, 2017

‘पांव टूटने पर भी पाक के खिलाफ खेलूंगा’ : महेंद्र सिंह धौनी

indianचयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद का खुलासा, बताया कि एशिया कप फाइनल में चोटिल धौनी ने कहा था-
चेन्नई : पिछले साल एशिया कप में भारत और पाकिस्तान के बीच मैच से पहले महेंद्र सिंह धौनी चोटिल हो गये और यह तय लग रहा था कि वह नहीं खेल पायेंगे, लेकिन तत्कालीन कप्तान की प्रतिबद्धता देखिये कि वह न सिर्फ मैच खेलने के लिए उतरे बल्कि उन्होंने इसमें जीत भी दर्ज की. यह खुलासा राष्ट्रीय चयनसमिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने किया. प्रसाद ने एक कार्यक्रम में बताया कि यहां तक कि उनके स्थान पर दूसरे खिलाड़ी को तैयार रखा था, लेकिन धौनी ने उनसे कहा कि वह चिंता नहीं करें, क्योंकि ‘अगर मेरा एक पांव टूट भी जाता है, तब भी मैं पाकिस्तान के खिलाफ खेलूंगा.
प्रसाद ने तमिलनाडु खेल पत्रकार संघ (टीएनएसजीए) के वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान फरवरी, 2016 में ढाका में खेले गये एशिया कप के दौरान घटी घटना का जिक्र किया, जिससे धौनी के समर्पण और प्रतिबद्धता का पता चलता है. प्रसाद ने कहा कि देर रात जिम में अभ्यास करते हुए धौनी ने वजन उठाया और अचानक उनकी पीठ में दर्द हुआ और वह उस भारी वस्तु के साथ गिर गये. सौभाग्य से वह वस्तु उन पर नहीं गिरी. वह चल नहीं पा रहे थे. उन्हें स्ट्रेचर पर उठाना पड़ा. चयनसमिति के अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें समझ में नहीं आ रहा था कि इस परिस्थिति से कैसे निबटा जाये. उन्होंने कहा कि इसलिए मैं स्थिति जाने के लिए धौनी के कमरे में गया. उन्होंने मुझसे कहा, ‘चिंता न करो एमएसके भाई.’
क्रिकेट में 72 बार नाबाद रहे हैं धौनी
धौनी ने वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा बार नाबाद रहने के रिकॉर्ड में चामिंडा वास और शॉन पोलाक की बराबरी कर ली है. धौनी वनडे क्रिकेट में नाबाद 72 बार नाबाद  पवेलियन लौटे हैं. लक्ष्य का पीछा करने के दौरान वह 40 बार नाबाद रहे हैं और इस दौरान उन्होंने 27 बार टीम को जीत दिलायी है. धौनी टी-20 में कुल 33 बार नाबाद रहे हैं और लक्ष्य का पीछा करने के दौरान वो 12 बार नाबाद रहे हैं.उन्होंने खेल के इस फॉर्मेट में नौ बार अपने बल्ले से रन बना कर टीम को जीत दिलायी है.
इनके नाम है रिकॉर्ड
महेंद्र सिंह धौनी 40 बार
जोंटी रोड्स 33 बार
इंजमाम-उल-हक 32 बार
रिकी पोंटिंग 31 बार