Published On: Wed, Oct 25th, 2017

मैच और स्पॉट फिक्सिंग के बाद अब पिच फिक्सिंग !

नई दिल्ली। न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ तीन मैच की वनडे सीरीज का बेहतरीन आगाज किया। उसने मुंबई में टीम इंडिया को छह विकेट से करारी मात दी। अब महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम से सामने आए मीडिया समूह इंडिया टुडे के स्टिंग ऑपरेशन से मैचों पर काले बादल मंडरा गए हैं।

बुकी बनकर गए रिपोर्टर्स ने महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) के पिच क्यूरेटर पांडुरंग सालगांवकर को पिच से छेड़छाड़ की इजाजत देते पकड़ा। इंडिया टुडे के मुताबिक उनके रिपोर्टर्स ने क्यूरेटर को कैमरे पर बात करते हुए कैद किया।

इसमें पांडुरंग कह रहे थे कि मांग के अनुसार पिच बना दिया जाएगा। रिपोर्टर्स ने पूछा कि दो खिलाड़ी बाउंस चाहते हैं, क्या ऐसा हो सकता है तो पांडुरंग ने कहा कि हो जाएगा। पांडुरंग ने कहा कि इस विकेट पर 337-340 रन बन सकते हैं।

उन्होंने विश्वास दिलाया कि 337 जितना बड़े स्कोर का भी पीछा किया जा सकता है। पांडुरंग ने रिपोर्टर्स को पिच का मुआयना करने की इजाजत दी जो कि आईसीसी और बीसीसीआई के नियमों का उल्लंघन है। इस बारे में एमसीए अध्यक्ष अभय आप्टे ने कहा कि वे मामले की जांच करेंगे। उल्लेखनीय है कि इस पिच को इस साल आईसीसी ने भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट के बाद खराब करार दिया था।

उसमें भारत को 333 रन से हार का सामना करना पड़ा था और मैच तीन दिन में ही खत्म हो गया। बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने कहा कि मैच पर फैसला मैच रैफरी लेंगे। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। मैंने इस मुद्दे पर एमसीए अध्यक्ष से बात की है। मैच और स्पॉट फिक्सिंग के बाद अब पिच फिक्सिंग सामने आने से फैंस में आक्रोश है।