Published On: Sun, Jun 3rd, 2018

सबसे तेज शतक लगाने से पहले सीढ़ियों से गिर गए थे एबीडी, जानें फिर क्या…

जोहान्सबर्ग। दुनिया के सबसे महान और गेंदबाजों के लिए खतरनाक माने जाने वाले क्रिकेटर साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स ने कुछ दिनों पहले इंटरनेशनल क्रिकेट अलविदा कहा था। लेकिन हाल ही में डिविलियर्स के बारे में एक बड़ा खुलासा हुआ है। और ये खुलासा किसी और ने नहीं बल्कि उन्हीं के दोस्त और हमवतन तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने किया है।

डेल स्टेन ने बताया कि वनडे इंटरनेशनल में सबसे तेज शतक का वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने के तुरंत पहले एबी डिविलियर्स ड्रेसिंग रूम के बाहर सीढिय़ों से गिर गए थे। बता दें कि 18 जनवरी 2015 को डिविलियर्स ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पिंक वनडे मैच में 31 गेंदों पर शतक जड़ दिया था, जो आज भी वल्र्ड रिकॉर्ड है।

स्टेन ने कहा, जोहानिसबर्ग वनडे में 31 गेंदों में शतक लगाने से पहले डिविलियर्स ड्रेसिंग रूम के बाहर सीढिय़ों से नीचे गिर गए और मैंने लगभग अपने पहले कदम पर उनकी कमर के हिस्से को देखा जहां चोट लगी हुई थी।

स्टेन ने कहा, मुझे याद है कि डिविलियर्स ने रसेल डोमिंगो (तब के दक्षिण अफ्रीकी कोच) से डेविड मिलर को उनकी जगह नंबर तीन पर बल्लेबाजी के लिए भेजने का आग्रह किया था, क्योंकि डिविलियर्स को लगा कि मिलर गेंद को मैदान से बाहर भेजने की क्षमता रखते हैं। लेकिन कोच रसेल ने एबी को कहा, नहीं, तुम जाओ। वह अनिच्छुक था, लेकिन अंत में एबी ने कहा, ठीक है और फिर वह चेंजिंग रूम से बाहर की तरफ भाग गया।


चेहरे के बल गिरे थे 

क्रिकइंफो से बातचीत के दौरान स्टेन ने कहा, वांडरर्स में जैसे ही आप चेंजिंग रूम से बाहर निकलते हैं तो वहां कुछ सीढिय़ां हैं। जैसे ही डिविलियर्स चेंजिंग रूम से बाहर की तरफ भागा तो वह सीढिय़ों से नीचे गिर गया। यह दृश्य टीवी पर नहीं है। वह लगभग अपने चेहरे पर फ्लैट गिर गया था।

एबीडी के तूफान के लिए डोमिंगो और मिलर थे दोषी
स्टेन ने स्वीकार किया कि एबी की वह पारी उनकी पसंदीदा है। वेस्टइंडीज के खिलाफ उस पिंक वनडे में डिविलियर्स ने सबसे तेज वनडे शतक लगाया और पहली ही गेंद से उन्होंने गेंदबाजों पर हमला शुरू कर दिया, तो वेस्टइंडीज को डिविलियर्स के उस रिकॉर्ड पारी के लिए रसेल डोमिंगो और डेविड मिलर को दोष देना चाहिए।

fdfd